Skip to content

ब्लॉग का SEO कैसे करें – Top 10 Points For Basic SEO in hindi

5/5 - (1 vote)

क्या आपको इस बात की जानकारी है- ब्लॉग का SEO कैसे करें ? इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपको Basic SEO Techniqe in hindi की पूरी जानकारी का पता चलेगा। जिससे आप भी अपने आर्टिकल को आसानी से Google के पहले page में rank करा सकते हैं।

अगर आप ब्लॉग्गिंग के फील्ड में नए हैं , तो आपके लिए यह विषय काफी महत्वपूर्ण है। नए ब्लॉगर को चाहिए कि सबसे पहले वो बेसिक SEO Techniqe को सीखें। जिससे वे अपने आर्टिकल को Google के पहले page में rank करा सके। अगर Blog Post गूगल में index हो जाती तभी ब्लॉग पर आर्गेनिक ट्रैफिक आता है। तो आप यह बात समझ गए होंगे कि आर्टिकल SEO फ्रेंडली लिखना होगा, तभी गूगल में इंडेक्स होगा।

एक ब्लॉग पोस्ट को SEO Friendly लिखने के लिए ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं होती है। आप जो भी कुछ पोस्ट लिखते हैं, उसी में थोड़ी सी कस्टमाइज़ेशन कर के पोस्ट को SEO Friendly बना सकते हैं और Google में index करा सकते हैं।

Basic SEO Techniqe in hindi

पोस्ट को SEO Friendly लिखने की कला के लिए आपको Basic SEO Techniqe in hindi को सीखना होगा। जिसे इस पोस्ट में काफ़ी बारीकियों के साथ बताया गया है। पूरा पढ़ने पर आप सबकुछ जान जायेंगे कि ब्लॉग का SEO कैसे करें।

SEO का मुख्य काम ही होता है किसी भी Content की visibility को organic search results में बढ़ाये।.इससे आसानी से Search Engine को एक अच्छा signal प्राप्त होता है, उसके साथ ही Content SERPs में ऊपर rank होते हैं। जिससे ज्यादा visitors Content पर आते हैं, जिससे ज्यादा conversions होने के chances बढ़ जाते हैं।

कोई भी अपने को seo एक्सपर्ट कह सकता है, लेकिन यदि कोई कहे की seo की पूरी knowledge है ,तो ये बात गलत है। Google या कोई भी Search Engines अपना Secret algorithms नहीं बताते हैं। अपने हिसाब से सर्च इंजन किसी भी कंटेंट को प्रमोट करता है।

Google के Experts हमें Search Engine Optimization के लिए Basic SEO Techniqe को बताते हैं। जिसको फॉलो करके ब्लॉग कंटेंट को Google में index कराया जाता है। इस Basic Seo Techniqe में मुख्य 3 प्रकार से Blog Optimization करना होता है -आपने Off Page Seo और On Page Seo का नाम सुना होगा, तीसरा है Technical SEO.

1. On Page Optimization Kya Hai.

ये optimization में page के ऊपर ज्यादा ज्यादा काम किया जाता है और ये आसानी से कुछ स्टेप्स में किया जा सकता है। जैसे:

  • Page Title  को अच्छे से लिखना
  • Heading Tag में कीवर्ड प्रोयग
  • सही तरीके से Keyword Placement 
  • Image में alt tag में कीवर्ड ऐड करना
  • Meta tag , Meta description में कीवर्ड एड करना
  • External Link बनाना
  • Internal Link  बनाना
  • Seo friendly Url बनाना

इसके अंतर्गत Focus Keyword और Rich Content (टेक्स्ट, इमेज ,वीडियो ) तैयार करना होता है। जिसमें title tags, meta descriptions, subheads और Linking इत्यादि आते हैं।

website की performance और visibility को बढ़ाने के लिए.यह बहुत जरुरी है, इसके बिना Blog Content को Rank कराना मुश्किल होता है।

2. Off Page Optimization Kya Hai.

इसके अंतर्गत कुछ चीज़ें आती हैं जैसे की back-links, page ranks, bounce rates, इत्यादि। जोकि page के बाहर optimization किया जाता है। Social Media अन्य High Athority वेबसाइट से लिंक किया जाता है। Off-page Optimization का मतलब केवल link building नहीं होता है बल्कि इसके साथ ये fresh content पर भी जोर देता है, जितना ज्यादा और बढिया content आप अपने viewers को प्रदान करेंगे उतनी ही ज्यादा आपके website को सर्च इंजन भी पसंद करेंगा।

3. Technical Optimization Kya Hai.

इसके अंतर्गत page load speed, navigable sitemap, AMP, mobile screen dispaly इत्यादि. आते हैं। इन्हें ठीक तरीके से optimized करना बहुत ही आवश्यक होता है, क्यूंकि ये आपके page rankings पर भी असर डालते हैं। Technical Optimization करने के बाद आप अपने वेबसाइट user friendy बनाते हैं।

Search Engine Optimization (seo) के फायदे:

SEO से किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग के SERP Ranking को Improve किया जा सकता है। SEO के जड़िये ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन रिजल्ट पेज में टॉप पर लाया जा सकता।SEO करके ब्लॉग पर गूगल से organic ट्रैफिक लाया जा सकता है।SEO से ब्लॉग या वेबसाइट के अथॉरिटी को इनक्रीस किया जा सकता है।

ब्लॉग का SEO कैसे करें

अक्सर नए ब्लॉगर ऐसा सोचते हैं- ब्लॉग का SEO कैसे करें। कई बार तो ऐसा होता है,जब सारे Basic Seo के नियम को पूरा करके बढ़िया आर्टिकल लिखते है, फिर भी रैंक नहीं होता है और उन्हें लगता है Optimization सही ढंग से नहीं हुआ है। तो ये बात सच है Basic Seo के नियम से सिर्फ बढ़िया आर्टिकल लिखने से पोस्ट रैंक नहीं होता है। उसके लिए Optimization के कई महत्वपूर्ण बिन्दुओ पर ध्यान देना होगा।

आइये जानते हैं, Quality Article के साथ किन बातों का ध्यान रखना है – ब्लॉग का SEO कैसे करें

Top 10 Points For Basic SEO in hindi

1. बढ़िया Article लिखने की कोशिश करें।

जब कभी भी आप आर्टिकल लिखें तो उसे बढ़िया लिखने का कोशिश करें। बढ़िया का मतलब आप जिस विषय पर लिख रहे हैं, उसके बारें में सटीक और सरल भाषा में लिखें। ताकि आपके द्वारा लिखा गया लेख लोगों को पसंद आये और उसे पूरा पढ़े। आपके ब्लॉग पर आने वाले visitor कितना समय आपके ब्लॉग पर देता है, गूगल इस चीज़ को messure करता है, और उस हिसाब से आपके ब्लॉग पोस्ट की Value गूगल में बढ़ती है। आपके पोस्ट की रैंकिंग भी इम्प्रूव होती है।

आप अपना ही उदाहरण ले लीजिए , जब कभी आप किसी toppic को गूगल में सर्च करते हैं, तो किसी वेबसाइट का कंटेंट आपको काफी ज्यादा पसंद आता है। कभी कभी आप उस वेबसाइट को bookmark भी कर लेते है। आखिर ऐसा क्यों करते हैं ? उनके ब्लॉग पोस्ट रैंक हुए हैं या कीवर्ड आपको अच्छा लगा।

नहीं, आप उस ब्लॉग के Quality कंटेंट से प्रभावित हुए और उसका बुकमार्क add कर लिए हैं। बहुत सी ऐसी वेबसाइट या ब्लॉग होगी, जिसका address तक आपको याद होगा और कुछ भी पढ़ने के लिए आप इसी वजह से बराबर उस ब्लॉग पर जाते हैं।

तो अपने आर्टिकल को आसानी से Google के पहले page में rank कराने के लिए बढ़िया Article लिखने की कोशिश करें।

2. अपने Website को User Friendly बनायें

आपको अपने अपने Website को User Friendly बनाना होगा। ताकि यूजर किसी भी डिवाइस से ( desktop , tab या Mobile ) आपके वेबसाइट को open करें। तो उसे अच्छा experience मिले।

अगर आपका वेबसाइट User Friendly नहीं है तो इसका सीधा असर आपके रैंकिंग पर पड़ती है। इससे मतलब नहीं कि ब्लॉग का SEO कैसे करें।

इसके लिए बढ़िया theme का इस्तेमाल करें और Theme को अच्छे से कस्टमाइज करें। पोस्ट के Headings ( H2,H3 ) में कीवर्ड का इस्तेमाल करना जरुरी है, इसके अलावा अलग अलग block का उपयोग करें। ब्लॉग पोस्ट में इमेज और वीडियो डालें।

पोस्ट से सम्बंधित सोशल मीडिया कंटेंट्स के फीड ब्लॉक को जोड़े। जैसे यहाँ मैं इंस्टाग्राम का एक फीड जोड़ा हूँ।

वेबसाइट की अथॉरिटी बढ़ाने के अच्छे Backlinks बनायें। आपके साइट पर अच्छे ऑथिरिटी वाले वेबसाइट बैकलिंक होते हैं। तो यह आपके ब्लॉग रैंकिंग में फायदेमंद साबित होता है। फिर भी अगर किसी ब्लॉग पर बढ़िया आर्टिकल पब्लिश होता है और उस ब्लॉग के बाउंस रेट कम होते हैं, तो उन्हें बैकलिंक की ज्यादा जरुरी नहीं है। उन्हें परेशान नहीं होना चाहिए।

अच्छे बैकलिंक के लिए आप Medium जैसे वेबसाइट पर पोस्ट में अपने साइट की लिंक साझा करें। अगर आपको बैकलिंक कैसे बनाये नहीं पता है तो इस आर्टिकल को पढ़े, इसमें पावरफुल बैकलिंक बनाने के तरीके बताये गए हैं।

4. पोस्ट में Internal और External Linking करें

Internal और External Linking Onpage Seo के लिए महत्वपूर्ण होता है।

  • Internal Linking –Internal Linking का मतलब है अपने Blog के एक पेज को दूसरे पेज से जोड़ना। जैसे – इस पेज के अंदर मैंने कुछ link को Read More कर के दूसरे पेज से connect किया है इसी को ही इंटरनल लिंकिंग कहते है। इसको करने से आपके pages को लिंक जूस मिलता है। लिंक जूस Pass होने से आपकी Ranking Improve होती है।
  • External Linking –एक्सटर्नल लिंकिंग का अर्थ है अपने blog के एक page को किसी अन्य blog के page से जोड़ना।जैसे – अगर आप एक post लिखते है और उसके अंदर आप किसी word को Explain नहीं करते है , परन्तु आप उस शब्द को explain करने के लिए किसी अन्य ब्लॉग के पेज से उस शब्द को जोड़ते है, उसी को ही एक्सटर्नल लिंकिंग कहते है।यह आपके पेज की information को complete करने में बहुत ज्यादा मदद करता है।Google उस पेज की ranking ज्यादा improve करता है जिस पेज में complete और quality की information होती है।
  • Internal और external linking को समझने के लिए इस video को देखें। Basic Seo के 6 important टिप्स आगे पोस्ट में जानेंगे।
Webgyanhindi.com

5. पोस्ट टाइटल को Attractive रखे

अब थोरी देर के लिए अपना example ही लीजिए। आप जब कुछ Google पर सर्च करते हैं तो ज्यादा उसी लिंक पर क्लिक करते हैं। जो आपके जानकारी से जुड़ा Attractive Title है।

ब्लॉग पोस्ट रैंकिंग में Title का बहुत बड़ा रोल होते है । Title लिखते वक़्त टाइटल को हमेशा Attractive रखे ताकि ज्यादा से ज्यादा क्लिक मिले । Title में “Top, Best, Unique ” इस टाइप आकर्षक वर्ड का यूज़ कर सकते हो और नंबर भी ऐड कर सकते हो ।और रैंकिंग के लिए टाइटल में कीवर्ड आना भी जरुरी है ।

इसीलिए इस बात को हमेशा ध्यान में रखते हुए ब्लॉग पोस्ट लिखें।

6. Meta Tag और Meta description का सही इस्तेमाल करें

Seo में सबसे ज़रूरी है – Meta Tag और Meta description का सही इस्तेमाल ।

Meta tag वेबसाइट का रोबोट डेटा होते है जो वेबसाइट पर visible नही होते। यह सिर्फ सर्च इंजन के लिए लिखे जाते है। सर्च इंजन मेटा टैग के लिखे हुए डेटा से कंटेंट के बारे पता करते है। 

जब आप किसी कीवर्ड को सर्च करते हो तो सर्च रिजल्ट में टाइटल के नीचे meta डेटा दिखाई देते है।

अगर आपका CONTENT index भी हो जाता है, और आपने Meta Tag और Meta description का सही इस्तेमाल नहीं किया तो ट्रैफिक आने की संभावना कम हो जाती है।

यह Google और Traffic दोनों के एंगल से जरूरी है। अगर आपको इसके बारें में डिटेल्स से जनाना है, तो किसी बढ़िया youtuber के वीडियों को देखें।

7. ठीक तरीके से Keyword Placement करें

ठीक तरीके से Keyword Placement का मतलब आप जो कुछ Keyword Research किए हो, उसका इस्तेमाल h1, H2, H3 के अलावे ब्लॉग पोस्ट में सही जगहों पर करें।

अब keyword डालने के चक्कर में पोस्ट को बोरिंग नहीं करना चाहिए। इससे यूजर experince खराब होगा।

पोस्ट के पहले पैराग्राफ में keyword डालना जरूरी है। keyword का इस्तेमाल image के alt text में अवश्य करें।

आपका आर्टिकल अगर 700 words के है तो उसमे 4- 5 बार अगर आप keyword डालेंगे तो कोई दिक्कत नहीं है।

8. Seo friendly Url बनाना

Blog पोस्ट के URL seo friendly होना चाहिए। अगर आप पोस्ट हिन्दी में लिखते हैं तो हिन्दी, Hinglish तो hinglish में, अंग्रेजी में तो english रखें। क्योंकि इस तरह रखने से आपके url में targeted keyword आ जाते हैं और आपका Seo friendly Url बन जाता है।

9. SSL सर्टिफिकेट के प्रयोग करे

आपके website में SSL सर्टिफिकेट लगा होना चाहिए। इसका इस्तेमाल आपके साइट के लिए भी फायदेमंद होता है।

Google ज्यादातर secure साइट को ही अपने रिजल्ट में दिखाता है। अगर आप फ्री SSL लेना चाहते तो Cloudflare cdn पर फ्री में SSL सर्टिफिकेट मिलते हैं।

इसके अलावा आप अपने होस्टिंग Provider से purchage कर सकते हैं।

10. Site स्पीड पर ध्यान दें

हमेशा अपने site speed का ध्यान रखें। अगर आपके website को LOADING में ज्यादा time लगता है, तो उसे कम करें।

क्योंकि अगर आपकी साइट slow load होगी तो user wait करना पसंद नहीं करते हैं।

Google के new update के मुताबिक वही साइट रैंक करते हैं, जिनकी Speed अच्छी हो।

आप search console में अपने pagespeed को check कर सकते हैं। और साइट optimize करके speed improve कर सकते हैं।

साइट पर फालतू plugin और अन्य स्क्रिप का उपयोग ना करें। अपने ब्लॉग पेज को क्लीन रखने चाहिए।

Read More:

Conclusion

दोस्तों, अभी के समय में इन्टरनेट पर इसके बारें में जानकारी जो दी जाती है, उसमें सबसे महत्वपूर्ण बिन्दु यही सब है। बस आप इतना सब कुछ करने के बाद अपने पोस्ट Ranking Improve कर सकते हैं। इतने बातों को ध्यान में रखकर जब कोई आर्टिकल/Content पब्लिश करेंगे तो google को अच्छा signal मिलेगा और आपका पोस्ट भी RANK होगा। फिर भी यह पोस्ट काफी शॉर्ट में है ,अगर आप डिटेल में जानकारी चाहते हैं- ब्लॉग का SEO कैसे करें । तो Comment box मे बताएं।

पोस्ट अच्छी लगी हो तो ब्लॉग को subscriber अवश्य करें।

Join the conversation

Your email address will not be published.