Skip to content

मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें | जानिए कुल लागत और मुनाफ़ा

मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें

दोस्तों आज के समय में लोग पैसे कमाने के लिए कई तरह के बिजनेस करते हैं, इस पोस्ट में जानेंगे मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें ? मैं आपको बता दूं कि मशालें का बिजनेस शुरू करके भी लाखों रुपए महीने के कमाए जा सकते हैं। लेकिन कुछ लोगों को मशालें का बिजनेस शुरू करके पैसे कैसे कमाएं? इसके बारे में अच्छी जानकारी नहीं है, इसीलिए हम आज का यह लेख लेकर आएं हैं।

आप इस लेख में अंत तक जरूर बने रहें, आज का यह लेख आपके लिए बहुत ही खास होने वाला है, क्योंकि इस लेख में मशालें का बिजनेस शुरू करके लाखों रुपये कमाए जानें के बारे में आसान शब्दों में और विस्तार से बताया गया है। तो चलिए अब हम आज के इस लेख ( masala business ideas in hindi ) को शुरू करते हैं।

मशालें पाउडर का बिजनेस – masala business ideas in hindi

दोस्तों मसाले का बिजनेस शुरू करके लाखों रुपए महीने से कमाए जा सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपके पास सही जानकारी होनी बहुत जरूरी है।

आपको पता होना चाहिए कि कौन से मसाले किस राज्य में पाए जाते हैं, मसाला बिजनेस कैसे शुरू करें? मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए आपको किन रिक्वायरमेंट की आवश्यकता होगी, मसाला बिजनेस शुरू करने में खर्च और प्रॉफिट कितना हो सकता है? और मसाला बिजनेस से जुड़ी अन्य कुछ महत्वपूर्ण जानकारी।

चलिए अब हम इन सभी चीजों के बारे में विस्तार से जानते हैं, ताकि आप मसाला बिजनेस शुरू करके जल्द से जल्द लाखों रुपए कमाने शुरू कर पाएं।

मसाला बिजनेस क्या है?

दोस्तों मसाला बिजनेस वह होता है, जिसमें कोई व्यक्ति मसालों का व्यापार करके या खुद कच्चे माल के जरिए मसाला बनाकर लोगों को बेचकर प्रॉफिट कमाता है, लेकिन आज हम केवल खुद कच्चे माल के जरिए मसाला बनाकर लोगों को बेचकर प्रॉफिट कमाने के बारे में ही बताने वाले हैं।

इस मसाला बिजनेस में आपको शुरुआत में कुछ इन्वेस्टमेंट करके खुद मसाला बनाकर पैकिंग करना होता है और उसके बाद आपको वह मसाला लोगों को मार्केटिंग या अन्य तरीकों का इस्तेमाल करके बेचकर प्रॉफिट कमाना होता है, जब कोई व्यक्ति इस काम को करता है तो वह भी मसाला बिजनेस कहलाता है।

मसालों का उत्पादन करने वाले राज्यों की सूची

प्राचीन काल से ही भारत को युहीं मशालों का देश नहीं कहा जाता है बल्कि यहाँ ऐसे बहुत सारे मसाले हैं जिनकी अच्छी पैदावार होती है इनमें धनिया, मिर्च, हल्दी, जीरा, पुदीना, लहसुन इत्यादि प्रमुख हैं।

इस बिज़नेस को शुरू करने के पहले ये जानना बेहद जरुरी है कि किस मशालों की अच्छी पैदावार भारत के किस राज्य में होती है। इससे फायदा यह होगा कि जहाँ मसालों की पैदावार अच्छी होती हो मसाला उद्योग या फिर मसालों का व्यापार आसानी से शुरू किया जा सकता है या कम कीमत में कच्चे माल की खरीद की जा सकती है।

अगर आपको यह जानकारी है तो आपको मसाला बिजनेस करने में और प्रॉफिट बढ़ाने में आसानी हो सकती है।

चलिए अब हम सभी मसालों का उत्पादन करने वाले राज्यों की सूची देखते हैं।

  • मिर्च – दोस्तों मसालों में सबसे ऊपर नाम मिर्च का आता है और यह लगभग सभी तरह के भोजनों में इस्तेमाल किए जानें वाला मसाला है, और आपको मसालों का बिजनेस करना है तो मिर्च पाउडर भी बनाना चाहिए, मिर्च का ज्यादात्तर उत्पादन मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, कर्णाटक, उत्तराखंड, गुजरात, राजस्थान एवं आंध्र प्रदेश में किया जाता है।
  • हल्दी – हल्दी भी मसाला बिजनेस के लिए बहुत जरूरी है, और इसका इस्तेमाल भी ज्यादत्तर लोग करते ही हैं, हल्दी के मुख्य उत्पादन राज्य महाराष्ट्र, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल, बिहार, कर्णाटक, आंध्र प्रदेश, त्रिपुरा, मेघालय, केरल, असम, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश एवं अरुणाचल प्रदेश है। ( मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें )
  • धनिया – धनिया के मुख्य उत्पादक राज्य राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड है।
  • अदरक – दोस्तों अदरक एक ऐसा मसाला है, जिसका इस्तेमाल चाय में भी किया जाता है, अदरक का उत्पादन करने वाले मुख्य स्थानों में उत्तराखंड, कर्णाटक, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, झारखण्ड, सिक्किम, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, मेघालय, तमिलनाडु, केरल, उड़ीसा और हिमाचल प्रदेश आते हैं।
  • जीरा एवं सौंफ – सौंफ का इस्तेमाल भारतीय संस्कृति के मुख्य भोजन खीर में भी किया जाता है और जीरा एवं सौंफ के उत्पादन के मुख्य स्थानों में राजस्थान, गुजरात और उत्तर प्रदेश का नाम आता है।
  • इलायची – इलायची का इस्तेमाल भी अदरक की तरह चाय में होता है और चाय भारत के पेय पदार्थों में सबसे आगे है, इसलिए आपको इलायची के उत्पादक क्षेत्रों की तरफ भी मुख्य ध्यान देना चाहिए, इसके उत्पादक क्षेत्र सिक्किम और पश्चिम बंगाल है।
  • लौंग, काली मिर्च एवं अजवायन – लौंग, काली मिर्च एवं अजवायन के उत्पादन का मुख्य क्षेत्र उत्पादन तमिलनाडु, कर्णाटक एवं केरल है।
  • अजोवन – जम्मू कश्मीर एवं बिहार अजोवन के मुख्य उत्पादक क्षेत्र है।
  • लहसुन – लहसुन भी मसालों में मुख्य रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला पदार्थ है, लहसुन का उत्पादन गुजरात, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र कर्णाटक, मध्य प्रदेश, बिहार, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उड़ीसा में होता है।
  • मेथी –  राजस्थान, उत्तर प्रदेश और गुजरात में मुख्य रूप से मेथी का उत्पादन किया जाता है।
  • सरसों – सरसों का इस्तेमाल भी अचार आदि में किया जाता है और यह भी मुख्य मसालों में से ही एक है, सरसों का उत्पादन करने वाले राज्यों में आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब आते हैं।
  • जायफल, जावित्री एवं दालचीनी – केरल एवं तमिलनाडु में मुख्य रूप से जायफल, जावित्री एवं दालचीनी का उत्पादन किया जाता है।
  • सोया बीज – राजस्थान एवं गुजरात में सोया बीज का उत्पादन होता है।
  • केसर – भारत में सिर्फ जम्मू & कश्मीर में केसर की खेती की जाती है।
  • कोकम – कर्णाटक राज्य कोकम उत्पादक राज्य है।
  • वैनिला – कर्णाटक, तमिलनाडु एवं केरल में वैनिला की खेती की जाती है।
  • तेजपत्ता – अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम में तेजपत्ता का उत्पादन किया जाता है।
  • कैम्बोज – कर्नाटक और केरल में कैम्बोज का उत्पादन किया जाता है।
  • अनार के बीज – तमिलनाडु और महाराष्ट्र अनार के बीज उत्पादक राज्य है।

मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें ( masala business kaise start kare )

दोस्तों अगर आप मसाला बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको पता होना चाहिए कि आपको मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए क्या-क्या करना होगा, मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले सभी बिज़नेस के तरह इसमें भी कुछ पूंजी की आवश्यकता होगी। अपने अनुसार जगह का प्रबंध करना होगा। उद्योग लाइसेंस प्राप्त करना होगा। पिसाई और पैकिंग के लिए मशीन खरीदना होगा। फिर मार्केटिंग करें और माल बेचें।

कच्चा मशाला खरीदने से पहले रिसर्च करें कि बाजार में उपलब्ध तैयार और कच्चा मशाला किस कीमत पर बेचा जा रहा है। बाजार में हमें आम तौर पर पाउडर के रूप में पैकिंग में मिलते हैं। इसके लिए आपको भी उन सभी चीजों का खास ध्यान रखना होगा की मशाला तैयार करने, पैकिंग और मार्केटिंग में कितना खर्च आ रहा है। इस खर्च को कम किया जा सकता है, उसके लिए आपको जहां सस्ते दाम में कच्चा मशाला मिलता वहां से खरीदना होगा।

चलिए अब मसाला बिजनेस शुरू करने के बारे में विस्तार से जानते हैं :- मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें

ये जरूर पढ़ें :- खुद का स्टार्टअप शुरू कैसे करें | निवेश के लिए पूँजी कहाँ से लाएं

मसाला पाउडर बिजनेस शुरु करने के लिए आवश्यकता ( masala business investment / Requirement )

मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कुछ आवश्यकता (Requirement ) को पुरा करना होगा :-

  • लागत – अगर किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए पहली रिक्वायरमेंट्स की बात करें तो वह लागत यानी पैसे ही होती है, मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए आपके पास कम से कम 50 हजार रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक होने जरूरी है। अगर आप शुरुआत में कम से कम 50 हजार रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक का Investment करेंगे, तभी आप अपने बिसनेस को अच्छे से चलाकर प्रॉफिट कमा पाएंगे। इसके अलावा अगर आप बड़े लेवल पर मसाला बिजनेस शुरु करना चाहते हैं तो आपको 10 से 15 लाख का खर्च आएगा, इसमें मसाला मशीनें, काम करने वाले लोग आदि का खर्चा निकल जाएगा।
  • जगह – लागत के अलावा मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए आपके पास 300 से 400 वर्ग फुट जगह भी होनी चाहिए, अगर आपके पास अच्छी जगह होगी, तभी आप अपने बिजनेस को अच्छे ढंग से चला पाएंगे और अगर आप खुद की मसाला मशीनें लगाकर मसाला बिजनेस शुरू करने की सोच रहें हैं, तो आपके पास अधिक जगह होनी बहुत जरूरी है। जगह के आभाव होने पर शुरुआत में आप किसी कमरे से भी इस बिज़नेस को शुरू कर सकते हैं।
  • मशीनें – अगर आपको मसाला बिजनेस करना है तो आपको मसाला बनाने वाली मशीनों को भी खरीदना होगा, लेकिन आप चाहें तो शुरुआत में में किसी मसाला मेकर कंपनी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं और एक बार प्रॉफिट कमाने के बाद खुद की मशीनें लगा सकते हैं।

जरूरी कार्यवाही – इन सब के अलावा अगर आपको अपनी कंपनी बनाकर मसाला बिजनेस शुरू करना है, तो आपको नीचे बताई गई कार्यवाही भी पूरी करनी पड़ेगी –

  • ROC का रजिस्ट्रेशन
  • Local Municipal Authority से Trade License
  • BIS सर्टिफिकेट
  • Food Operator लाइसेंस

ये जरूर पढ़ें :- बिज़नेस कैसे शुरू करें | Top 40 Business ideas in hindi 2022

मसाला उद्योग रजिस्ट्रेशन

बेहद लघु स्तर पर आप इसे अपने घर के एक कमरे से भी शुरू कर सकते हैं, या एक छोटा प्लांट भी लगा सकते हैं। यह लघु, मध्यम, तथा बड़े स्तर पर भी की जा सकने वाला उद्योग है। मसाला पाउडर बिज़नेस यूनिट को छोटे स्तर की हो या बड़े स्तर की रजिस्ट्रेशन की सारी प्रक्रिया फॉलो करना जरुरी है।

रजिस्ट्रेशन का प्रोसेस:- सबसे पहले ROC का रजिस्ट्रेशन करना होगा। इसके बाद लोकल म्युनसिपल अथॉरिटी से ट्रेड लाइसेंस लेना होगा। इसके बाद फूड ऑपरेटर लाइसेंस और फिर BIS सर्टिफिकेट।

मसाला पीसने वाला मशीन

मसाला पीसने वाला मशीन का कीमत घरेलु उपयोग के लिए 2000 से 5000 तक एवं बिज़नेस के लिए 20,000 से 5 लाख तक की आती है। बिज़नेस के लिए मशाला पीसने और पैकिंग के अलावा और छोटी-छोटी मशीन की आवश्यकता हो सकती है।

मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें | जानिए कुल लागत और मुनाफ़ा
मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें | जानिए कुल लागत और मुनाफ़ा
मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें

आपको क्लीनर, ड्रायर, ग्राइंडिंग, बैग सीलिंग, पावर ग्रेडर मशीन आदि मशीनों की जरूरत होगी।

हालांकि कम से कम पैसे में भी आपको मशीन मिल जायेंगे और आप सिर्फ पीसने और पैकिंग मशीन से बिज़नेस स्टार्ट कर सकते हैं। यहाँ कुछ मशीन के फोटो को देख आप समझ सकते हैं।

मसालें पाउडर कैसे बनाएं / मसाला बनाने का तरीका

  • दोस्तों अगर मसालों का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले मसाले बनाने की जरूरत होगी, इसके लिए आपको सबसे पहले मसालों के लिए कच्चा माल खरीदना होगा, और आपको कोन से मसाले बनाने हैं और उसके लिए कच्चा माल कहां मिलेगा, यह पता करने के लिए आप ऊपर बताई गई मसाला उत्पादक राज्यों की सूची देख सकते हैं।
  • कच्चा माल खरीदने के बाद आपको कच्चे माल कि अच्छे से सफाई करनी होगी।
  • उसके बाद आपको कच्चे माल को पीसकर मसाला तैयार करना है और आप चाहे तो किसी अन्य कंपनी या फैक्ट्री के जरिए भी मसाला पिसवा सकते हैं।
  • फिर आपको उस मसालें को पैकिंग की जगह लेकर जाना है।

मसालों पाउडर की पैकिंग करें

मसाला तैयार करने के बाद आपको मसालों की पैकिंग करनी होगी, इसके लिए आपको अपनी कंपनी के नाम से पैकेट बनवा लेने हैं और मसालों की पैकिंग पर आपको खास ध्यान देना है।

आपने देखा होगा कि जितनी भी बड़ी-बड़ी मसाला बनाने वाली और अन्य कई तरह की कंपनियां होती है, उनकी पैकेजिंग बहुत ही जबरदस्त होती है, प्रोडक्ट के ज्यादा बिकने का एक कारण प्रोडक्ट की पैकेजिंग भी होती है, लेकिन पैकेजिंग से प्रोडक्ट केवल एक बार बिकता है, इसलिए आपको पैकेजिंग के साथ अपने मसालें में टेस्ट पर भी ध्यान देना है।

मसाला पाउडर बिज़नेस में मार्केटिंग कैसे करें ?

कोई भी नई कंपनी बिना मार्केटिंग के अपने प्रोडक्ट नहीं बेच सकती, इसलिए आपको अपनी मसाला कंपनी की मार्केटिंग पर भी ध्यान देना है।

मार्केटिंग करने के लिए आप अपने प्रोडक्ट और कंपनी के Poster जगह-जगह लगवा सकते हैं और जगह-जगह दीवारों पर भी अपनी कंपनी के नाम और Product का पैंट करवा सकते हैं, यह Marketing के कम खर्च में बेहतरीन तरीके है।

मसाला बिजनेस करने के फायदे और मार्जिन ( masala business profit margin )

अगर आप मसाला बिजनेस शुरू कर रहे हैं और आपने इन्वेस्टमेंट भी काफी ज्यादा किया हुआ है, तो इसमें आपका प्रॉफिट भी बहुत बड़ा होगा और इस बिजनेस को आप कम लागत में शुरू करके भी हर महीने के 50 हजार रुपए से 60 हजार रुपए आसानी से कमा सकते हैं।

इस बिजनेस को शुरू करने का एक बड़ा फायदा यह भी है, कि इस बिसनेस में नई कंपनी भी आसानी से ग्रो कर सकती है। आपको पता ही होगा, मशाला पाउडर भारत के सभी घरों में उपयोग किये जाते हैं, इस हिसाब से इसके मार्केट में डिमांड हमेशा रहती है और जहाँ डिमांड ज्यादा है वहां मुनाफा भी अच्छा होता है।

बस आपको अपने प्रोडक्ट की क्वालिटी और क्वांटिटी पर ध्यान देना होगा। फिर आप थोड़ी अच्छी मार्केटिंग करें। उसके बाद मसाला पाउडर बिज़नेस आपको इतना पैसा कमाकर दे सकता जितनी की आप कल्पना नहीं करेंगे। (मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें)

FAQ’s

तो चलिए दोस्तों अब हम आज के इस लेख से जुड़े लोगों द्वारा अक्सर पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण सवाल और उनके जवाब जानते हैं :-

मसाला बिजनेस को शुरू करने के लिए कितने रुपए चाहिए?

मसाला बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कम से कम 50 हजार रुपए की जरूरत होती है।

मसाला बिजनेस करके कितने रुपए कमाए जा सकते हैं?

अगर आप मसाला बिजनेस को ठीक-ठाक Investment के साथ शुरू करते हैं, तो इसमें आप हर महीने 30 हजार से ज्यादा कमा सकते हैं।

मसाला बनाने के लिए किन मशीनों की जरूरत पड़ेगी?

मसाला बनाने के लिए आपको क्लीनर, ड्रायर, ग्राइंडिंग, बैग सीलिंग, पावर ग्रेडर मशीन आदि मशीनों की जरूरत होगी।

मसाला पीसने वाला मशीन का क्या कीमत है?

मसाला पीसने वाला मशीन का कीमत घरेलु उपयोग के लिए 2000 से 5000 तक एवं बिज़नेस के लिए 20,000 से 5 लाख तक की आती है। बिज़नेस के लिए मशाला पीसने और पैकिंग के अलावा और छोटी-छोटी मशीन की आवश्यकता हो सकती है।

निष्कर्ष – मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें ?

दोस्तों आज के इस लेख में हमने मशालें का बिजनेस शुरू करके लाखों रुपये महीने के कमाए जाने के तरीके के बारे में विस्तार से जाना, हमें उम्मीद है कि आपको आज के इस लेख में बताई गई जानकारी पसन्द आई होगी, अगर आपको जानकारी पसन्द आई तो इस लेख को अपने दोस्तों के साथ, व्हाट्सएप ग्रुप्स और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जरूर शेयर करें।

इसके अलावा अगर आपको इस लेख ( मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें ) से जुड़ा कोई सुवाल या सुझाव है, तो कमेंट करके जरूर बताएं और हम आपके लिए इसी तरह के जानकारी से भरपूर लेख लगातार लेकर आते रहते हैं, इसलिए हमारे साथ जरुर जुड़े रहें।

धन्यवाद।

ये जरूर पढ़ें :-

मशाला पाउडर बिज़नेस कैसे शुरू करें ? इस खास बिज़नेस आइडियाज के बारें में कमेंट बॉक्स में अपनी राय अवश्य दें।

Your Comment

Whatsapp Channel
Telegram channel

Discover more from वेब ज्ञान हिन्दी

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading