कार बीमा 21-25 पॉलिसी के बारे में जो आप हमेशा जानना चाहते हैं

You are currently viewing कार बीमा 21-25 पॉलिसी के बारे में जो आप हमेशा जानना चाहते हैं

दोस्तों आज के दौर में अगर देखा जाये, तो बढ़ती आवादी के साथ वाहनों की संख्या में भी काफी बढ़ोतरी हुयी है, कार एक परिवार के लिए बहुत ही उपयोगी सवारी है। ऐसे में अपनी सुरक्षा के लिए,संरक्षित रहने के लिए और अपने आप को किसी भी कानूनी परिणाम से बचने के लिए,आपको कार बीमा जरूर ख़रीदने चाहिए। तो इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको कार बीमा के बारे में सबकुछ बताने वाले हैं। और कार बीमा 21-25 पॉलिसी के बारे में जो आप हमेशा जानना चाहते हैं।

कार बिमा आपके कार को कई प्रकार के हर्जाने से सुरक्षित रखती है। हम सभी इस बात को जानते हैं की भारत में अगर कोई बिना बिमा कोई गाड़ी चलाता है तो उसे जुर्माना भी देना पड़ सकता है।

कार इंश्योरेंस आपके लिए काफी लाभकारी है, और ये उपयोगी सुबिधाये देता है जो आपको निश्चित रूप से जरुरी समय में आपकी सहायता करता है । ये उन सभी दायित्व को पूरा करता है जब किसी थर्ड पार्टी की मौत , चोट या संपत्ति नुकसान की बात हो जाये ।व्यक्तिगत दुर्घटना भी विभिन्न कार बिमा के अंतर्गत आती है ।

भारत में कार बीमा 21-25 पॉलिसी कितने प्रकार की है।

जैसा कि मैंने आपको पहले बताया – कार बीमा 21-25 पॉलिसी ज़रूरत पड़ने पर पूरी तरह से सहायता प्रदान करती है, और आपके वाहन को शारीरिक नुकसान या क्षति, दैविक आपदाओं, चोरी आदि के लिए कवर करती है. इस आधार पर भारत में कार बिमा को मुख्य प्रकार से दो अलग – अलग रूप में बांटा गया है।

Read More : IDFC के शेयरों में 19 प्रतिशत की वृद्धि – IDFC First Bank से प्रमोटर के रूप में बाहर निकलने की RBI से मंजूरी

 थर्ड पार्टी कार इंश्योरेंसकम्प्रेहैन्सिव कार इंश्योरेंस
पॉलिसी के बारे में जानकारीसभी वाहन मालिकों के लिए कानूनन अपनी कार का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस करवाना अनिवार्य है। यह आपको दुर्घटना में किसी अन्य व्यक्ति के वाहन का नुकसान  / उसके चोट के खर्च को कवर करने में मदद करता है।यह कार को हर तरफ से सुरक्षा देने वाल इंश्योरेंस कवर है। इसे कॉम्प्रिहेंसिव इंश्योरेंस इसलिए कहते  है क्योंकि यह कार हादसे से जुड़े अनेक प्रकार के  नुकसान से सुरक्षा देने का काम करता है, जैसे – सड़क दुर्घटना, चोरी , आग लगना,थर्ड पार्टी को होने वाला नुकसान , दुर्घटना में व्यक्तिगत नुकसान आदि।
प्रीमियमइस इंश्योरेंस का प्रीमियम कॉम्प्रिहेन्सिव  इंश्योरेंस की तुलना में कम है क्योंकि ये वाहन दुर्घटना / चोरी / से किसी भी अन्य तरह के नुकसान को कवर नहीं करता है।पहली नज़र में इसका प्रीमियम थर्ड पार्टी कार इंश्योरेंस से अधिक लगता है , लेकिन अगर  तुलना की जाए तो जिस तरह का इंश्योरेंस कवर इसमें दिया जाता है ,  उस हिसाब से इसका प्रीमियम किसी भी मायने में अधिक नहीं है।
कैशलेस नेटवर्क गैरेजइस इंश्योरेंस में सिर्फ किसी अन्य गाडी के नुकसान का ही कवरेज मिलता है इसलिए कैशलेस सेवाएं उपलब्ध नहीं हैं।बिना पैसे दिये (कैशलेस) कार की मरम्मत की सुविधा इसमें दी जाती है। इंश्योरेंस कम्पनियों  का करार जगह -जगह कार को ठीक करने वाले गेराज से होता है, जिन्हें नेटवर्क ऑफ़ गेराज कहते हैं। इनश्योर्ड  कार यहाँ जाकर अपनी मरम्मत करवाते हैं , और बिल का पैसा इंश्योरेंस कंपनी गेराज में सीधा जमा कर देती है।  
कवरेजयह केवल दूसरे व्यक्ति के नुकसान के लिए कवरेज प्रदान करता है। इसमें आपकी गाड़ी या आपको चोट से हुए नुकसान के लिए कोई पैसा नहीं दिया जाता है।• फर्स्ट पार्टी और थर्ड पार्टी दोनों को सड़क दुर्घटना में होने वाले किसी भी तरह के नुकसान को -चाहे वह वाहन है या व्यक्ति, कवरेज देता है।
• सड़क दुर्घटना में  व्यक्ति के दोषी पाए  जाने पर उससे जुड़ा मुकदमा और उसके फीस को कवर करता है।
• अगर दुर्घटना के लिए आप खुद दोषी हैं, तब भी कार को हुए  नुकसान का क्लेम होता है।
• कार की चोरी को कवर करता है।
• प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान को कवर करता है।
जीरो डेप्रिसिएशन कवर इस इंश्योरेंस में जीरो डेप्रिसिएशन का विकल्प नहीं होता है।इसमें जीरो डेप्रिसिएशन ऐड ऑन कवर लेने की सुविधा है। कार के प्लास्टिक, कांच, फाइबर और मेटल जैसे कुछ हिस्से, जो जल्द ख़राब होना शुरू हो जाते हैं, उसमें लगने वाले  “डेप्रिसिएशन” से बचाने का विकल्प है। यह कवर सिर्फ नई गाड़ियों पर ही  मिलता है।
सड़क पर हुई टूट – फूट या गाड़ी ख़राब होने पर सहायतासड़क पर हुई टूट – फूट या गाड़ी ख़राब होने पर कोई भी सहायता नहीं दी जाती है परन्तु आप अलग से पैसे दे कर एक्सीडेंट के समय सहायता ले सकते है।यह रोडसाइड इमरजेंसी असिस्टेंस ,ऐड ऑन सेवा है, जो कॉम्प्रिहेंसिव प्लान के साथ उपलब्ध है।  इसमें रास्ते में गाड़ी ख़राब होने पर , या गाड़ी से जुडी कोई और परेशानी होने पर, हर तरह की मदद दी जाती है।
मेजर पार्ट्स कवरेज जैसे की इंजनयह किसी भी हिस्से के लिए कवरेज प्रदान नहीं करता है।इसमें इंजन प्रोटेक्शन ऐड ऑन कवर उपलब्ध है, जिसमें गियर बॉक्स को नुकसान होने पर, या इंजन में किसी वजह से खराबी आने पर इंश्योरेंस कंपनी मरम्मत का खर्चा उठाती  है।
नो क्लेम बोनसथर्ड पार्टी इंश्योरेंस में, आप नो क्लेम बोनस का लाभ नहीं उठा सकते हैं।यह एक तरह का डिस्काउंट है जो कॉम्प्रिहेंसिव प्लान के साथ उपलब्ध है।  इसमें इंश्योरेंस प्लान लेने के बाद अगर साल भर के अंदर अगर कोई क्लेम नहीं लिया जाता, तो कंपनी  बोनस देती है जिससे अगले साल के इंश्योरेंस प्रीमियम पर डिस्काउंट मिलता है।
कार बीमा खरीदने से पहले ध्यान रखने योग्य बातेंकिसी भी बीमा कंपनी का कार इंश्योरेंस लेने से पहले क्लेम सेटलमेंट रेश्यो की जाँच जरुर करें।• कार के ऐड ऑन लेते समय उन्ही फीचर्स को शामिल करें जिनकी वाकई आपको जरुरत है
• जीरो डिप्रेशन इंश्योरेंस में स्टैंडर्ड वियर एंड टियर में आने वाली चीज़ें कवर नहीं होती  -जैसे कार की बैटरी, टायर, क्लच प्लेट्स, बियरिंग्स आदि।
• इंश्योरेंस कम्पनी क्लेम का पैसा IDV  के आधार पर देती है , जो इंश्योरेंस कम्पनी द्वारा तय किया जाता है।
• उन बातों की जानकारी जो कॉम्प्रिहेंसिव इंश्योरेंस में कवर नहीं होते, जैसे –दुर्घटना के समय चालक का नशे में पाया जाना, या चालक के पास वैध ड्राइविंग लाइसेंस का न होना,रास्ते में होने वाला मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल खराबी  या गाड़ी को पहुंचा कोई ऐसा नुकसान जो दुर्घटना का नतीजा नहीं है।

कार बीमा 21-25 पॉलिसी क्लेम सेटलमेंट

क्लेम सेटलमेंट मूल-रूप से इस बात का प्रतीक है कि आपको सही समय पर सही कंपनसेशन मिले। चूँकि क्लेम्स कार बीमा 21-25 पॉलिसी का एक अहम पहलू है, कार इन्शुरन्स खरीदने से पहले अपने चुने हुए कार इन्शुरन्स कंपनी के क्लेम सेटलमेंट अनुपात को जाँचना न भूलें। जितना अच्छा सेटलमेंट अनुपात होगा, उतनी जल्दी आपको आपका क्लेम मिलेगा।

Read More : MSME क्या है ? कैसे आसानी से MSME रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन करें ?

यह रिपोर्ट पीछे के वर्षो के आधार पर आपको समझने के लिए दिया गया है , आंकड़ा कुछ ऊपर नीचे हो सकता है। पॉलिसी लेने वक़्त इसकी जाँच पड़ताल जरूर कर लें। इंश्योरेंस रेगूलट्ररी डेवेलपमेंट औथोरिटी या IRDA हर साल अपनी वार्षिक रिपोर्ट में सभी इंश्योरेंस कंपनीयो का प्रमुख डाटा उपलब्ध कराती है |आप इस डाटा को IRDA की वेबसाइट पर भी पढ़ सकते है | (IRDA वेबसाइट)

बीमा कंपनिया बीमा कंपनी के पास कितना प्रीमियम आया (करोड़ में)  बीमा कंपनी ने कितने क्लेम पास करे (करोड़ में)क्लेम सेटलमेंट रेश्यो %
बजाज आलियांज3662.672278.0662.20%
भारती एक्सा1010.07825.681.74%
चोलामंडलम एमएस 2266.411805.2379.65%
फ्यूचर जनरली 818.92626.576.50%
गो डिजिट 5.75.7100%
एचडीएफसी एर्गो 1516.871279.8184.37%
आईसीआईसीआई लोम्बार्ड4142.193207.8977.44%
इफको टोकियो2328.561843.9279.19%
कोटक महिंद्रा98.2774.6875.99%
लिबर्टी जनरल441.84307.6169.62%
मैग्मा एचडीआई320.49261.8681.71%
रहेजा क्यूबीई 33.1237.94114.53%
रिलायंस1735.521413.8781.47%
रॉयल सुंदरम1619.781376.5884.99%
एसबीआई जनरल738.09677.2191.75%
श्रीराम1815.321716.5694.56%
टाटा एआईजी2310.441585.4368.62%
युनिवर्सल सोम्पो454.75366.8180.66%

सभी लोग के पास कार इंश्योरेंस पॉलिसी है क्योंकि भारत सरकार द्वारा इसे अनिवार्य किया गया है. हालांकि, हमारे में बहुत से लोग इस बात को नहीं जानते कि कार इंश्योरेंस पॉलिसी से क्या सुविधाएं मिलती हैं. पॉलिसी को रिन्यू कराते समय, जिस चीज की हमें चिंता रहती है, वह केवल प्रीमियम की राशि है. लेकिन आपको क्या यह पता है कि प्रीमियम को कैसे कैलकुलेट करते हैं और कुछ बीमा कंपनियां कैसे दूसरे के मुकाबले कम प्रीमियम देती हैं.

कार इंश्योरेंस पॉलिसी को लेते समय फीचर्स को चेक करना महत्वपूर्ण है. कार इंश्योरेंस पॉलिसी को खरीदते समय ये तीन सबसे महत्वपूर्ण चीजें हैं, जिन्हें ध्यान में रखना जरूरी है.

कार का मूल्य

अगर आपकी कार को बहुत कम राशि पर वैल्यू किया गया है, तो इंश्योरेंस प्रीमियम कम रहेगा लेकिन इंश्योरेंस पॉलिसी रखने का उद्देश्य पूरा नहीं होता. यह आपको उस समय दिक्कत देगा, अगर आप क्लेम करते हैं.

कैशलेस सुविधा वाले गैराज

यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आपको उन गैराज का पता हो, जहां आप अपनी कार को ठीक होने के लिए दे सकते हैं जो आपकी बीमा पॉलिसी के साथ जुड़े हैं. वरना क्लेम राशि बहुत ज्यादा होने पर मुश्किल होगी क्योंकि शुरुआत में आपको अपनी जेब से भुगतान करना होगा और फिर रिम्बर्समेंट के लिए क्लेम करना होगा.

क्लेम की प्रक्रिया

आपको इस बात का पता होना चाहिए कि आपको अपने क्लेम की सेटलमेंट के लिए किसे संपर्क करना है और इसके लिए बेसिक प्रक्रिया क्या है. यह जानकारी महत्वपूर्ण है क्योंकि हर कंपनी का अपना टाइमफ्रेम होता है जिसके अंदर क्लेम को पूरा करना होता है और कई बार मोटर दस्तावेज जैसे नजदीकी पुलिस स्टेशन से मोटर कोलिजिन रिपोर्ट आदि की जरूरत होती है.

इसलिए अपनी मौजूदा पॉलिसी को रिन्यू या नई खरीदने से पहले पॉलिसी की डिटेल्स को चेक करना सुनिश्चित करें.

तो प्रिय पाठकों मैंने बहुत बारीकी से आपको कार बीमा के बारे में समझाने की कोशिश की। उम्मीद है आपको पढ़ने के बाद कुछ अंदाजा लगा होगा। आप कमेंट कर के मुझे बता सकते है। कार बीमा से जुडी समस्या के बारे में। धन्यवाद्।

Your Comment