Public Provident Fund: महीने के 1000 रुपये में मिलेंगे 30 लाख

You are currently viewing Public Provident Fund: महीने के 1000 रुपये में मिलेंगे 30 लाख

Public Provident Fund में आज भी लोगों का भरोसा है, एक स्कीम ऐसा भी है जहां आप हर महीने 1000 रुपये बचाए मिलेंगे 30 लाख रुपये । आइए जानते हैं detail में..

दोस्तों, Public Provident Fund एक ऐसा निवेश है जिस पर आपको अच्छा ब्याज तो मिलता ही है, साथ ही टैक्स पर अच्छी बचत भी होती है. PPF में अगर आपने रोजाना 34 रुपये भी निवेश किया यानी महीने के 1000 रुपये लगाए, तो यह लाखों रुपये पहुंच जाता है. हम आपको बताने जा रहे हैं PPF में 1000 रुपये मंथली के छोटे से निवेश से आप कैसे 30 लाख की मोटी रकम बना सकते हैं ।

Public Provident Fund scheme क्या होता है ?

Public Provident Fund को शॉर्ट में PPF भी कहते हैं। हिन्दी में इसका अर्थ होता है- लोक भविष्य निधि। भारत सरकार ने 1968 में Public Provident Fund की स्थापना की थी। इसका उद्देश्य था कि unorganised क्षेत्र के जिन कर्मचारियों के लिए, EPF, Pension आदि की सुविधा नहीं है उन्हे भी अपने भविष्य के लिए पैसा बचाने का मौका मिले।

इस योजना को खुद भारत सरकार चलाती है और वही ब्याज भी देती है। लेकिन, इसका संचालन, खाता पोस्ट ऑफिस या बैंकों के माध्यम से होता है। मतलब यह कि, आप बैंक या पोस्ट ऑफिस में, इसका अकाउंट खोल सकते हैं। सरकार ने PPF को हर तरह के टैक्स से मुक्त रखा है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस योजना को अपनाएं। 

Public Provident Fund scheme | Benefits of investing in PPF
फोटो: Government seva

Benefits of investing in PPF

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) लंबी अवधि के लिए एक बेहतर निवेश विकल्प है. PPF में निवेश न केवल सुरक्षित है, बल्कि इसमें टैक्स छूट का पूरा लाभ मिलता है. निवेशकों के लिए इसमें जोखिम नगण्य होता है. चूंकि, PPF में निवेश को पूरी तरह सरकार का संरक्षण है, इसलिए यह पूरी तरह जोखिम मुक्त है. सेल्फ इम्प्लायड प्रोफेशनल और EPFO के दायरे में नहीं आने वाले कर्मचारियों के लिए पीपीएफ निवेश का एक सबसे उपयुक्त विकल्प है. इसके अलावा, जिन लोगों के पास नौकरी या कारोबार कोई संगठित ढांचा नहीं है, वह लंबी अवधि के निवेश के लिए पीपीएफ को चुन सकते हैं.

पीपीएफ को लेकर इस तरह नहीं सोचना चाहिए कि इस खाते में साल में कभी एक बार पैसा डालना है. यदि थोड़ी बहुत प्लानिंग के साथ निवेश किया जाए, तो PPF आपके फाइनेंशियल पोर्टफोलियो का अच्छा निवेश साबित हो सकता है. आइए जानते हैं कि PPF में निवेश करने के क्या-क्या फायदे हैं.

बेहतर ब्याज दर

PPF अकाउंट पर ब्याज दर को केंद्र सरकार हर तिमाही में संशोधित करती है. PPF पर ब्याज दर हमेशा 7 फीसदी से 8 फीसदी रही है. यह आर्थिक स्थिति को देखते हुए थोड़ी कम या बढ़ सकती है. वर्तमान में अप्रैल से जून 2020 की तिमाही के लिए पीपीएफ पर ब्याज दर 7.1 फीसदी है, जो सालाना तौर पर चक्रवृद्धि है. इसकी तुलना बहुत से बैंकों की फिक्स्ड डिपॉजिट से की जाए, तो पब्लिक प्रोविडेंट फंड (FD), पीपीएफ अपने सब्सक्राइबर्स को ज्यादा ब्याज देती है.

Read : कार बीमा 21-25 पॉलिसी के बारे में जो आप हमेशा जानना चाहते हैं

टेन्योर का विस्तार

स्कीम में सब्सक्राइबर्स के लिए 15 साल की अवधि है जिसके बाद टैक्स छूट के तहत आने वाली राशि को विद्ड्रॉ कर सकते हैं. लेकिन सब्सक्राइबर्स इसे 5 साल और बढ़ाने के लिए अप्लाई कर सकते हैं. और वे यह चुन सकते हैं कि वे योगदान को जारी रखना चाहते हैं या नहीं.

टैक्स बेनेफिट

पब्लिक प्रोविडेंट फंड में आईटी एक्ट के सेक्शन 80C के तहत टैक्स बेनेफिट मिलता है. इसमें स्कीम में निवेश की गई राशि पर 1.5 लाख रुपये तक का डिडक्शन लिया जा सकता है. PPF में कमाई गई ब्याज और मेच्योरिटी की राशि दोनों पर टैक्स छूट मिलती है.

निवेश की सुरक्षा

सरकार द्वारा समर्थित सेविंग्स स्कीम होने से सब्सक्राइबर्स को इसमें निवेश करने पर पूरी सुरक्षा मिलती है. इसमें कमाए गए ब्याज पर सॉवरेन गारंटी होती है जो इसे बैंक के ब्याज के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित बनाती है. इसकी तुलना में बैंक डिपॉजिट पर डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) द्वारा 1 लाख रुपये तक की राशि पर बीमा मिलता है.

लोन की सुविधा

सब्सक्राइबर्स PPF अकाउंट पर उपयुक्त ब्याज दर पर लोन ले सकते हैं. लोन बेनेफिट को अकाउंट खोलने से तीसरे और छठें साल में लोन का फायदा ले सकते हैं. यह खासकर उन लोगों के लिए लाभकारी है जो छोटी अवधि के लोन के लिए अप्लाई करना चाहते हैं.

1000 रुपये हर महीने करें निवेश Public Provident Fund में

Public Provident Fund में अगर आप 1000 रुपये की रकम हर महीने निवेश करते हैं तो आपका ये छोटा सा निवेश लाखों रुपये बन सकते हैं. इसके लिए कुछ जरूरी बातें हैं, जो हम बताने जा रहे हैं. सबसे पहले तो ये कि आप PPF में निवेश बेहद छोटी सी उम्र में ही शुरू कर दें. मान लीजिए आपने 20 साल की उम्र में ही निवेश शुरू कर दिया. तो आप इसे तबतक चला सकते हैं जब आप खुद 60 साल के नहीं हो जाते. आइये जानते हैं कि 1000 रुपये महीने का निवेश पहले 15 साल में कितना हो जाएगा और अगर इसे 5-5 साल के लिए बढ़ाया जाए तो यह कितना हो जाएगा.

1. पहले 15 साल तक निवेश किया

PPF में पहली बार में न्यूनतम 15 साल के लिए निवेश होता है. ऐसे में अगर आप हर महीने 1000 रुपये 15 साल तक जमा करते रहेंगे, तो आप कुल मिलाकर 1.80 लाख रुपये जमा करेंगे. इस जमा के बदले आपको 15 साल के बाद 3.25 लाख रुपये मिलेगा. इसमें आपका ब्याज 7.1 परसेंट के हिसाब से 1.45 लाख रुपये है.

2. 5 साल के लिए आगे बढ़ाया

PPF को अब आप 5 साल के लिए आगे बढ़ाते हैं, और इसमें हर महीने 1000 रुपये का का निवेश भी जारी रखते हैं तो 5 साल बाद 3.25 लाख रुपये की रकम बढ़कर 5.32 लाख रुपये हो जाएगी.

3. फिर 5 साल के लिए आगे बढ़ाया

5 साल के बाद अगर आप PPF निवेश को फिर से 5 साल के लिए आगे बढ़ाते हैं और 1000 रुपये का निवेश भी जारी रखते हैं तो अगले 5 साल के बाद आपके PPF खाते में पैसा बढ़कर 8.24 लाख रुपये हो जाएगा.

Read : दमदार शेयर : जो आपको दे सकते हैं बंपर रिटर्न

4. तीसरी बार 5 साल के लिए आगे बढ़ाया

अगर इस पीपीएफ खाते को तीसरी बार भी 5 साल के लिए और बढ़ाते हैं और 1000 रुपये का निवेश जारी रखते हैं तो कुल निवेश की अवधि हो जाएगी 30 साल. और PPF खाते में रकम बढ़कर हो जाएगी 12.36 लाख रुपये.

5. चौथी बार 5 साल के लिए आगे बढ़ाया

अगर इस पीपीएफ खाते को 30 साल के बाद 5 साल के लिए और बढ़ाते हैं, और 1000 रुपये महीने का निवेश चालू रखते हैं. ऐसे में आपके पीपीएफ खाते में अगले 5 साल के बाद यानी 35वें साल में आपके पीपीएफ खाते में पैसा बढ़कर 18.15 लाख रुपये हो जाएगा.

Read : सबसे बढ़िया बीमा कंपनी और उनके बेस्ट प्लान

6. पांचवीं बार 5 साल के लिए आगे बढ़ाया

PPF खाते को 35 साल के बाद 5-5 साल के लिए और बढ़ाते हैं, और 1000 रुपये महीने का निवेश चालू रखते हैं. ऐसे में आपके पीपीएफ खाते में अगले 5 साल के बाद यानी 40वें साल में आपके पीपीएफ खाते में पैसा बढ़कर 30 लाख रुपये हो जाएगा. यानी 20 साल की उम्र में 1000 रुपये का जो निवेश आपने शुरू किया था, वो रिटायरमेंट तक 30 लाख रुपये हो जाएगा.

Your Comment