Skip to content

50+ छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल वचन 2023

शिवाजी महाराज के अनमोल वचन 2023

छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल वचन, बेहतरीन स्टेटस दी गई। पूरा पोस्ट पढ़े बहुत मजा आएगा और मोटिवेशन भी मिलेगी। साथ ही इसे आप सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं।

छत्रपति शिवाजी महाराज जयंती 19 फरवरी 2023 को पूरे देश में बड़े उत्साह के साथ मनाई जाएगी। अपने लिए प्यार और सम्मान फैलाने के लिए इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर साझा कर सकते हैं। हमें उम्मीद है कि आप हिंदी में शिवाजी महाराज के महान विचारों के संग्रह का आनंद लेंगे, शिवाजी कोट्स हिंदी में, शिवाजी की स्थिति हिंदी में, शिव जयंती की स्टेटस हिंदी में।

शिवाजी महाराज के अनमोल वचन

~ शत्रु चाहे कितना ही बलवान क्यों न हो। उसे अपने इरादों और उत्साह मात्र से भी परास्त किया जा सकता है।

~ इस जीवन मे सिर्फ अच्छे दिन की आशा नही रखनी चाहिए। क्योंकि दिन और रात की तरह अच्छे दिनों को भी बदलना पड़ता है।

~ एक सफल मनुष्य अपने कर्तव्य की पराकाष्ठा के लिए समुचित मानव जाति की चुनौती स्वीकार कर सकता है।

~ प्रतिशोध की भावना मनुष्य को जलाती रहती है। सिर्फ संयम ही प्रतिशोध को काबू करने का एक उपाय हो सकता है।

~ यह जरूरी नहीं है कि गलती करके ही सीखा जाए। दूसरों की गलती से सीख लेते हुए भी सीखा जा सकता है।

~ जो मनुष्य अपने बुरे वक्त में भी पूरी लगन से अपने कार्यों में लगा रहता है। उसके लिए समय खुद अच्छे समय में बदल जाता है।

छत्रपति शिवाजी महाराज के सुविचार

मराठी साम्राज्य के संस्थापक और एक आदर्श शासक के रूप में जाने जाने वाले छत्रपति शिवाजी राजे भोसले सहिष्णु राजा हैं। दुश्मन से लड़ने के लिए महाराष्ट्र की पहाड़ियों और घाटियों में अनुकूलित गुरिल्ला कविता की पद्धति का उपयोग करते हुए, उन्होंने बीजापुर के तत्कालीन आदिलशाही, अहमदनगर के निजामशाही और शक्तिशाली मुगल साम्राज्य के खिलाफ लड़ाई लड़ी और मराठी साम्राज्य के बीज बोए। ऐसे वीर योद्धा को नमन है। जिन्होंने अपने धर्म की रक्षा हेतु अपना सबकुछ राष्ट्र के लिए समर्पित कर दिए।

~ इस दुनिया में प्रत्येक व्यक्ति को स्वतंत्र रहने का अधिकार है। और उस अधिकार को पाने के लिए वह किसी से भी लड़ सकता है।

~ सर्वप्रथम राष्ट्र, फिर गुरु, फिर माता-पिता और फिर परमेश्वर। अतः पहले खुद को नहीं, राष्ट्र को देखना चाहिए।

~ कोई भी कार्य करने से पहले उसका परिणाम सोच लेना हितकर होता है। क्योंकि हमारी आने वाली पीढ़ी उसी का अनुसरण करती है।

छत्रपति शिवाजी महाराज की जय

~ अपने आत्मबल को जगाने वाला, खुद को पहचानने वाला और मानव जाति के कल्याण की सोच रखने वाला पूरे विश्व पर राज्य कर सकता है।

~ अंगूर को जब तक न पेरो वह मीठी मदिरा नहीं बनती। वैसे ही मनुष्य जब तक कष्ट में पिसता नहीं तब तक उसके अन्दर की सर्वोत्तम प्रतिभा बाहर नहीं आती।

~ आत्मबल सामर्थ्य देता है और सामर्थ्य विद्या प्रदान करती है। तथा विद्या स्थिरता प्रदान करती है और स्थिरता विजय की तरफ ले जाती है।

Chhatrapati Shivaji Maharaj Quotes In Hindi

~ एक वीर योद्धा हमेशा विद्वानों के सामने ही झुकता है।

~ कभी भी अपना सिर मत झुकाओ, हमेशा उसे ऊंचा रखो।

~ स्वतंत्रता एक वरदान है, जिसे पाने का अधिकारी हर कोई है।

~ जब हौसले बुलन्द हों तो पहाड़ भी एक मिट्टी का ढेर लगता है।

छत्रपति शिवाजी महाराज के विचार

दोस्तों, मुगलों के आने के बाद भारत में हमारे इतिहास को बर्बाद किया गया। कुछ हिन्दू राजाओं ने राज्य विस्तार के लोभ में मुगलों से हाथ मिला लिया। लेकिन वहीँ वीर शिवाजी महाराज ने विदेशी आक्रांताओ को छक्के छुड़ाएं और मुगलों को यह एह्साह करा दिय कि, माँ भारती के हर एक सपूत जब अपने पर आ जाये तो अकेले ही उनके पुरे सेना को ढ़ेर कर सकते हैं। ऐसे वीर सपूत, महान योद्धा, छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल वचन, से बहुत प्रेरणा मिलेगी। हम सभी को यह सुविचारअपने जीवन में उतारना चाहिए।

~ आप जहां कहीं भी रहते हैं आपको अपने पूर्वजों का इतिहास जरूर मालूम होना चाहिए।

~ जो व्यक्ति सिर्फ अपने देश और सत्य के सामने झुकता है। उसका आदर सभी जगह होता है।

~ जरुरी नहीं कि विपत्ति का सामना दुश्मन के सम्मुख से ही करने में वीरता हो। वीरता तो विजय में है।

~ अगर मनुष्य के पास आत्मबल है तो वो समस्त संसार पर अपने हौसले से विजय पताका लहरा सकता है।

~ एक पुरुषार्थी व्यक्ति भी एक तेजस्वी विद्वान के सामने झुकता है। क्योंकि पुरुषार्थ भी विद्या से ही आता है।

जो व्यक्ति धर्म, सत्य, श्रेष्ठता और परमेश्वर के सामने झुकता है। उसका आदर समस्त संसार करता है।

Tweet

यदि एक पेड़, जो कि एक उच्च जीवित सत्ता नहीं है। फिर भी वह इतना सहिष्णु और दयालु होता है कि किसी के द्वारा मारे जाने पर भी वह उसे मीठे फल ही देता है। तो एक राजा होकर, क्या मुझे एक पेड़ से अधिक सहिष्णु और दयालु नहीं होना चाहिए ?

Tweet

जब लक्ष्य जीत का हो तो उसे हासिल करने के लिए कोई भी मूल्य क्यों न हो। उसे चुकाना ही पड़ता है।

Tweet

भले ही हर किसी के हाथ में तलवार हो। लेकिन यह इच्छाशक्ति होती है जो एक सत्ता स्थापित करती है।

Tweet

शिवजी महाराज कोट्स हिंदी – Shivaji maharaj Quotes in hindi

एक साहसी और बहादुर आदमी भी विद्वान और बुद्धिमान के सम्मान में झुकता है। क्योंकि साहस भी ज्ञान और ज्ञान से आता है।

– छत्रपति शिवाजी महाराज.

यहां तक ​​कि अगर सभी के हाथों में एक तलवार थी, तो वह इच्छाशक्ति है जो सरकार स्थापित करती है।

– छत्रपति शिवाजी महाराज

जब आप उत्साही होते हैं,तो पहाड़ भी मिट्टी के ढेर जैसा दिखता है।

-छत्रपति शिवाजी महाराज

बदला लेने की भावना मनुष्य

को जलाती रहती है.

सिर्फ संयम ही प्रतिशोध को काबू करने

का एक मात्र उपाय है।

-छत्रपति शिवाजी महाराज

conclusion : छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल वचन

वीर छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल वचन पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद। उम्मीद करते हैं , वीर छत्रपति शिवाजी महाराज के विचार, से काफ़ी प्रभावित हुए होंगे। जानकारी अच्छी लगी हो तो एक प्यारा सा कमेंट करे, साथ ही अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें।

Read More :

Your Comment

Discover more from वेब ज्ञान हिन्दी

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading