Skip to content

अपने 4G सिम को 5G में कैसे बदले? (Jio/Airtel 4G to 5G)

4G सिम को 5G में कैसे बदले

Convert Jio/Airtel Sim 4G to 5G (अपने 4G सिम को 5G में कैसे बदले ?) : आज की internet दुनिया में, लोगों से जुड़े रहना पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है और 5G तकनीक के आने के बाद, अब हमारे पास अब तक के सबसे तेज़ Speed वाला मोबाइल इंटरनेट कनेक्शन है। यदि आप अभी भी 4G Sim Card का उपयोग कर रहे हैं, तो आप 5G के अविश्वसनीय लाभों से वंचित हैं। इसीलिए हम इस लेख के माध्यम से आपको बताएँगे, कैसे कुछ सरल Steps में आसानी से अपने 4जी सिम को 5जी में बदला जा सकता है।

लगभग एक साल पहले भारत में की शुरुआत हुई। देश के लगभग सभी शहरों में एयरटेल और जियो की 5G सेवा लाइव हो चुकी है। फिर भी ज़्यादातर लोगों को 5G सेवा के बारे जानकारी नहीं है, आप भी अगर यह सोच रहे हैं कि क्या आपके 4G सिम कार्ड पर 5G सेवा चलेगी या आपको नया 5G सिम लेना होगा, तो इस लेख में हम आपको इसका जवाब देंगे। इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद आप भी 5G सेवा का आनन्द ले पाएंगे।

बहुत से 4G मोबाइल में सेटिंग के अलग ऑप्शन होते हैं, जिस कारण हो सकता आपको थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन अपने मोबाइल के सिम सेटिंग या कनेक्शन सेटिंग को ध्यान देने पर आप सफलतापूर्वक 4G सिम को 5G में बदल सकते हैं। फिर भी अगर आपको दिक्कत हो रही हो तो पोस्ट के लास्ट में कमेंट में आप अपने सवालों को पूछ सकते हैं।

क्या 5G सिम कार्ड भी खरीदना होगा ?

भारत में उपलब्ध अधिकांश 4G सिम कार्ड 5G नेटवर्क को सपोर्ट करते हैं। इसका मतलब है कि आप अपने मौजूदा 4G सिम कार्ड को ही 5G सेवा के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। आपको कोई नया सिम कार्ड खरीदने की जरूरत नहीं है। दरअसल, आपको बता दें कि एयरटेल और जियो ने घोषणा कर दी है कि 5G का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को 5G सिम की जरूरत नहीं होगी, जिन लोगों के पास लेटेस्ट 4जी सिम है वह पहले से ही 5जी को सपोर्ट करता है। हालांकि, 5G सेवा का लाभ उठाने के लिए आपके स्मार्टफोन को भी 5G सपोर्ट करना चाहिए।

4G सिम को 5G पर स्विच करने के लाभ

5G सेवा के कई लाभ हैं। 5G सेवा 4G सेवा की तुलना में बहुत तेज है। 5G सेवा में लैटेंसी भी बहुत कम है। इसका मतलब है कि 5G सेवा में वीडियो स्ट्रीमिंग, गेमिंग और अन्य गतिविधि बहुत तेज और लैग फ्री होती हैं। तो अगर आप अपने स्मार्टफोन पर 5G सेवा का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको अपने सिम कार्ड को 5G नेटवर्क पर एक्टिवेट करना होगा। अगर आपके स्मार्टफोन में 5G सपोर्ट नहीं है, तो आपको नया 5G स्मार्टफोन खरीदना होगा।

  • बहुत तेज़ गति: 5G डाउनलोड गति प्रदान करता है जो 4G की तुलना में 20 गुना अधिक तेज़ है, जिससे आप कम समय में फिल्में, संगीत और गेम डाउनलोड कर सकते हैं।
  • कम विलंबता: 5G में काफी कम विलंबता है, जिसका अर्थ है कम अंतराल और अधिक प्रतिक्रियाशील गेमिंग और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग अनुभव।
  • बढ़ी हुई क्षमता: 5G, 4G की तुलना में बहुत अधिक संख्या में कनेक्टेड डिवाइसों को संभाल सकता है, इसलिए आप कम कॉल ड्रॉप और अधिक विश्वसनीय कनेक्टिविटी की उम्मीद कर सकते हैं।

अपने 4G सिम को 5G में बदलने का तरीका

4G सिम कार्ड को 5G नेटवर्क पर सेट करने के लिए सबसे पहले आपको यह सुनिश्चित करना है कि, आपके क्षेत्र में 5G उपलब्ध है या नहीं। फिर आपका मोबाइल 5G को सपोर्ट करता हो, अगर ये दोनों सही है तो आप कुछ स्टेप्स को फॉलो करके 5G नेटवर्क से कनेक्ट कर सकते हैं।

जरूर पढ़ें : फ्री में instagram पर followers कैसे बढ़ाये | instagram followers free

अपने 4G सिम को 5G में कैसे बदले ?

अपने 4G SIM को 5G स्मार्टफोन में सेटिंग्स बदलने के लिए नीचे दिए गए Steps को Follow करें :

स्टेप 1 – सबस पहले अपने स्मार्टफोन पर ‘सेटिंग’ ऐप खोलें।

5G नेटवर्क पर सेट करने के Steps

स्टेप 2 – इसके बाद, ‘मोबाइल नेटवर्क’ की सेटिंग को चुनें।

5G नेटवर्क पर सेट करने के Steps

स्टेप 3 – सिम को सिलेक्ट करें जिसमें आपको 4G की जगह 5G ऑन करना चाहते हैं।

स्टेप 4 – यहां से ‘Preferred network type’ ऑप्शन को चुनें।

5G नेटवर्क पर सेट करने के Steps

स्टेप 5 – इसके बाद बस टैप करें और 5G नेटवर्क टाइप चुनें।

स्टेप 6 – यदि 5G आपके क्षेत्र में शुरू हो गया है, तो ऐसा करने से आपको अगले कुछ मिनटों में स्टेटस बार पर 5G साइन मिलने लगेगा।

अगर आपका मोबाइल 5G को सपोर्ट करता है और आपने पोस्ट में बताये गए इस स्टेप को फॉलो किया है फिर भी स्पीड की समस्या या 5G सेवा का लाभ नहीं ले पा तब एकबार आपको अपने सिम से सम्बंधित मोबाइल एप्लीकेशन को चेक करना चाहिए। यहाँ My Jio App और Airtel Thanks के लिए निर्देश दिए गए हैं।

जरूर पढ़ें : Top 100 Trending Business Ideas in Hindi – 2023 में कौन सा बिजनेस शुरू करें

Activate 5G on Jio/Airtel Sim through App

Jio पर 5G सेवा कैसे सक्रिय करें, इसके चरण यहां दिए गए हैं:

  • Jio वेबसाइट पर जाएं या My Jio App खोलें।
  • अपने Jio खाते में लॉग इन करें।
  • “खाता प्रबंधित करें” पर क्लिक करें और फिर “सेवाएँ” चुनें।
  • “5G सेवा” पर क्लिक करें और फिर “सक्रिय करें” चुनें।

Airtel पर 5G सेवा कैसे सक्रिय करें, इसके चरण यहां दिए गए हैं:

  • एयरटेल वेबसाइट पर जाएं या Airtel Thanks App खोलें।
  • अपने एयरटेल खाते में लॉग इन करें।
  • “मेरा खाता” पर क्लिक करें और फिर “योजना एवं उपयोग” चुनें।
  • “5G सेवाएँ” पर क्लिक करें और फिर “सक्रिय करें” चुनें।

निष्कर्ष:

5G पर स्विच करना एक सरल और आसान प्रक्रिया है, जो आपके मोबाइल इंटरनेट अनुभव में उल्लेखनीय वृद्धि प्रदान कर सकती है। तेज़ गति, कम विलंबता और बढ़ी हुई क्षमता के साथ, 5G मोबाइल इंटरनेट का भविष्य है। तो आप किस बात की प्रतीक्षा कर रहे हैं? आज ही अपने सिम कार्ड को 5जी में अपग्रेड करें और इस अगली पीढ़ी की तकनीक के अविश्वसनीय लाभों का आनंद लेना शुरू करें! 5G सेवा का लाभ उठाने के लिए आपके स्मार्टफोन को भी 5G सपोर्ट करना चाहिए। अगर आपके स्मार्टफोन में 5G सपोर्ट नहीं है, तो आपको नया 5G स्मार्टफोन खरीदना होगा।

FAQ:

Q.1 भारत में कौन सी सिम 5G है?

Ans: भारत में, सभी प्रमुख टेलीकॉम ऑपरेटर, जियो, एयरटेल, और वोडाफोन-आइडिया, 5G सेवाएं प्रदान करते हैं। इन सभी ऑपरेटरों की सिम 5G-सक्षम हैं।

Q.2 कौन सा 5g नेटवर्क मोड सबसे अच्छा है?

Ans: आपके लिए कौन सा मोड सबसे अच्छा है, यह आपके व्यक्तिगत आवश्यकताओं और प्राथमिकताओं पर निर्भर करता है। यदि आप उच्चतम संभव गति और लेटेंसी की तलाश में हैं, तो SA मोड सबसे अच्छा विकल्प है। यदि आप व्यापक कवरेज और लागत-प्रभावशीलता की तलाश में हैं, तो NSA मोड एक अच्छा विकल्प है। SA मोड एक पूरी तरह से स्वतंत्र 5G नेटवर्क है।SA मोड में सबसे तेज गति और सबसे कम लेटेंसी होती है। NSA मोड में SA मोड की तुलना में थोड़ी कम गति और लेटेंसी होती है।

Q.3 क्या मेरे फोन में 5G चलेगा ?

Ans: 5G सेवा का लाभ उठाने के लिए आपके स्मार्टफोन को भी 5G सपोर्ट करना चाहिए। अगर आपके स्मार्टफोन में 5G सपोर्ट नहीं है, तो आपको नया 5G स्मार्टफोन खरीदना होगा।

Your Comment

Whatsapp Channel
Telegram channel

Discover more from वेब ज्ञान हिन्दी

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading