Skip to content

Backlink क्या है और High Quality Backlinks कैसे बनाए

High Quality Backlinks कैसे बनाए

High Quality Backlinks कैसे बनाए Do Follow backlinks क्या है, No follow backlinks क्या है एवं कैसे बनाएं, backlinks बनाने का सही तरीका क्या है, इन सब सवालों का जवाब इस पोस्ट में आपको मिलने वाला है।

Blog या Website सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए या अपने site पर organic traffic लाने के लिए हमें high quality backlink बनाना ही पड़ता है।

आपका ब्लॉग Blogger पर है या वर्डप्रेस पर उसे सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए Do Follow एवं No Follow backlinks बनाना ज़रूरी है। ज्यादा से ज्यादा high quality backlink वाले web pages को ही कोई भी search engine रैंकिंग प्रदान करता है।

अगर आप भी Backlink बनाने का सही तरीका जानना चाहते हैं, तो इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें :

जब कोई Web page किसी दूसरे web page से खास web link के माध्यम से जुड़ा होता है, उसे Backlink कहते हैं। आसान भाषा में किसी website पर जब किसी अन्य website का Link डाला गया है तो आप उस Link को Backlink कह सकते हैं।

जैसे: अगर आपके website या Blog का Link इस पोस्ट में मैं लगा दूँ तो यह लिंक आपके ब्लॉग का Backlink होगा।

backlink kya hai example

Backlink के बारें और अधिक जानकारी के पहले आपको इससे जुड़े कुछ ख़ास terms हैं। जिनके बारे में आपको जानना बेहद जरुरी है, तभी आप इसके बारे में अच्छे से समझ पाएंगे और उसका इस्तेमाल अपने blog में करेंगे। तो चलिए जानते हैं उन terms के बारे में –

Links के कुछ Terms भी होते हैं जिनको आप को जानना और समझना बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

Low Quality Backlinks : जिस website का Spam score ज्यादा होता है, वहां से प्राप्त link लिंक को Low Quality Backlinks कहते हैं। यह किसी भी website के लिए खराब होता है।

इससे वेबसाइट की रैंकिंग डाउन हो सकती है। ध्यान रखें कि आपको अपनी वेबसाइट के लिए Low Quality Backlinks नहीं बनाना है यदि आप किसी गलत वेबसाइट से Backlinks बनाते हैं जिसका Spam score को बहुत ही ज्यादा तो इससे आपकी वेबसाइट पर बहुत ही ज्यादा बुरा प्रभाव पड़ेगा।

High Quality Backlinks : ये backlinks quality website से हमें मिलती है। Quality website वो होते हैं जो popular होते हैं और जिनका value google में ज्यादा रहता है।

अगर आपके website में भी quality website से backlink मिलते हैं तो search engine में आपके website को high ranking प्राप्त होगी।

इसीलिए आप जिस भी वेबसाइट से Backlinks ले रहे हैं आपको उस वेबसाइट का DA PA चेक करना है और साथ में Spam score चेक करना ज्यादा जरूरी है जिस वेबसाइट पर Spam score कुछ ज्यादा ही है, तो उस वेबसाइट से Backlinks नहीं बनाएं।

Read More: Blog Promotion क्या है और Blog Promote कैसे करे ?

किसी भी वेबसाइट का DA PA चेक करने के लिए आप इस वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं : websiteseochecker.com या आप गूगल में भी सर्च कर सकते हैं DA PA Checker।

Internal linking : अपनी वेबसाइट के सभी Web Page को एक दूसरे से जोड़ना ही Internal linking हैं। जैसे: आप अपने किसी आर्टिकल में अपने ही किसी दूसरे Related Post का लिंक देते हैं।

आप 3 से 6 या Article कि lengths के हिसाब से Related Content को एक Web Page में Internal link कर सकते हैं। आपको बहुत ज्यादा Internal Links एक वेब पेज में ऐड नहीं करना है।

link juice in seo: जब किसी दूसरे के web page का link आपके website के किसी भी एक article में link है या फिर आपके Home Page में कहीं जुड़ा हुआ है, तो Page से link flow हो कर आपके website तक पहुँचता है, उसे हम link juice in seo कहते हैं। किसी वेबसाइट के Web Page में आपकी वेबसाइट का लिंक Add है तो उसे भी link juice कहते हैं।

आप जिस भी वेबसाइट को Do Follow Backlinks दे रहे हैं तो वह वेबसाइट का DA PA अच्छा होना चाहिए यानी के हाई क्वालिटी Page होना चाहिए । ये link juice आपके article को rank करने में मदद करता है और आपके domain authority को भी बेहतर करता है।

Backlinks मुख्यतः 2 प्रकार के ही होते हैं। आइए जानते हैं इनके बारें में –

ऐसे सारे links जो भी आप किसी website पे या blog post पर देते हैं वो सभी do-follow backlink होते हैं। इस प्रकार के बैकलिंक site की रैंक को सर्च इंजन में बहुत तेजी se ऊपर ले आते है। do-follow backlink – link juice को pass करने में सहायता करता है, जो की एक website से दुसरे website में जाने का रास्ता देता है, link बनाता है। एक DoFollow link में कोई भी एट्रिब्यूट नहीं रहता.

<a href=”http://mysite.com” rel=”dofollow”>My Site</a>

अथवा

<a href=”http://mysite.com”>My Site</a>

अथवा

<a href=”http://mysite.com” rel=”external”>My Site</a>

Do-follow link

दोस्तों जैसे मैंने किसी दूसरी वेबसाइट पर अपना लिंक डाला उसके बाद जब Google या फिर किसी अन्य सर्च इंजन का robot उस वेबसाइट के links को crawl करता है। तो #Dofollow का टैग robot को लिंक index करने की अनुमति देता है। यानि की जो लिंक मैंने दूसरी वेबसाइट पर डाला है उस लिंक को सर्च इंजन index कर लेगा। इसे ही dofollow backlink कहते है.

Read More: Blog organic traffic tips in hindi | ब्लॉग पर ट्रफिक कैसे लाएं

ये आपके profile link को natural look देते हैं। अगर आपका सारा लिंक Do Follow होगा तो google को ऐसा लगेगा की आपका profile link natural नहीं है और आपको उसके लिए penalise भी कर सकता है।

Nofollow backlink एक website से दुसरे website तक link juice को pass नहीं करता। NoFollow links search engine में भी कोई value नहीं होता।NoFollow link आपके site को rank करने में बिलकुल काम नहीं आता।

लेकिन इसका मतलब ये कतई नहीं है की nofollow backlinks किसी काम के नहीं होते है। nofollow backlinks भी वेबसाइट की रैंक को बढाने में सहायक होते है लेकिन ये dofollow backlinks के मुकाबले बहुत ज्यादा बेनिफिट नहीं देता है। यह आपके website के लिए संतुलन बनाए रखने में मदद करता है।

<a href=”http://mysite.com” rel=”nofollow”>My Site</a>

अथवा

<a rel=”nofollow” href=”http://mysite.com”>My Site</a>

No Follow link

इस प्रकार के backlink google या सर्च इंजन में index नहीं होते है। जब google या सर्च इंजन का robot किसी वेबसाइट पर विजिट करता है तो nofollow का टैग robot को उस लिंक को index करने से रोक देता है जो nofollow backlinks होते है।

Backlinks, blog और website के लिए हमेसा से ही फायेदेमंद रहा है। एक दिन में 10 backlinks बनाना safe माना जाता है और ये आपके वेबसाइट के growth के लिए भी सही होता है।

वैसे Google के algorithm अब ज़्यादा फ़ोकस कांटेंट की क्वालिटी के ऊपर कर रहे हैं , Backlinks बनाने के फायदे पर आपको भी ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए। पहले Quality कंटेंट बनाये फिर बैकलिंक्स। लेकिन फिर भी backlink का अपना ही महत्व होता है। backlinks आज भी काम करती हैं।

  • Page rank को Improve करता है।
  • Blog या website की authority को Improve करता है।
  • Content की रैंकिंग को सर्च इंजन में बढाता है।
  • इससे ट्रैफिक मिलता है।
  • dofollow के साथ nofollow backlinks वेबसाइट को सतुलन देते है।
  • यह आपको ऐसे अपडेट से सुरक्षित रखता है जो आपको बैकलिंक्स बनाने के लिए penalize करते हैं।
  • DA, PA & अन्य Metrics को improve करने में सहायक होते है।

यहां पर हम high quality backlink बनाने का 6 आसान एवं बेहतर तरीकों को जानेंगे।

1 .Guest post या Guest Blogging high quality backlink के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। आप किसी भी high authority site पर guest post करके Do Follow Backlink प्राप्त कर सकते हैं।

इसके लिए सबसे पहले आपको अपने वेबसाइट से रिलेटेड अन्य दूसरे हाई अथॉरिटी साइट को ढूंढना होगा जो गेस्ट पोस्ट स्वीकार करते हो

फिर उनसे कांटेक्ट करके आप एक अच्छा सा आर्टिकल लिखेंगे उस आर्टिकल में आप अपने site का या किसी particular page का लिंक देंगे और फिर वह आर्टिकल उस site पर सबमिट कर देंगे।

ऐसे में आपको high authority site से do follow backlink मिलेगा इस तरीके का बैकलिंक आपके site की authority एवं traffic बढ़ाने के लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होता है।

2.Social Media Marketing : Facebook, Instagram, Twitter, sharechat, Pinterest, LinkedIn, Quora इत्यादि. अब आप इन platform पर अपने website के नाम का page बनाते जाइए एवं इन platform पर अपना profile में अपने site का URL डालते जाइए।

इससे आपको Do Follow Backlink भी मिलेगा एवं आपके द्वारा बनाया हुआ page पर आप अपने blog या फिर page एवं पोस्ट को शेयर भी कर पाएंगे।

Social platform आप जितना ज्यादा से ज्यादा शेयर करेंगे उतना ज्यादा से ज्यादा आपको backlink मिलते जाएगा एवं आपकी site पर traffic तेजी से बढ़ेगा।

ध्यान रहे social platform पर अपने site का URL share करने के पहले वहां की पॉलिसी को अच्छा से समझ लीजिए नहीं तो उस प्लेटफार्म पर आपके website का लिंक ब्लॉक भी हो सकता है।

Social media platform से आने वाला traffic का 70 परसेंट हिस्सा Facebook से आता है एवं कई बार हम फेसबुक पर बहुत ज्यादा लिंक शेयर कर देते हैं जिसके वजह से फेसबुक हमारे domain को ब्लॉक कर देता है।

3. Blog Commenting : Blog commenting एक बहुत ही आसान तरीका है backlink बनाने के लिए,

आप अपने website से संबंधित अन्य high authority site पर कमेंट करते समय अपने site या फिर किसी particular page का लिंक दे सकते हैं।

Read More : Keyword Research Kaise Karen | Top 5 Keyword Research tools

Comment करते समय ऊपर अपना नाम नीचे email एवं उसके नीचे आप अपने website या फिर किसी post का URL देने के बाद उसके नीचे उस post से रिलेटेड अच्छा सा एक कॉमेंट देकर सबमिट करेंगे।

ज्यादातर comment backlink no follow ही होता है लेकिन कुछ site पर comment backlink भी do follow होता है।

Do follow के साथ ही no follow backlink भी बनाना जरूरी होता है।

by Mr. Vyas (backlinks बनाने का सही तरीका)

CONCLUSION

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि backlink क्या है और High Quality Backlinks कैसे बनाए, इसके बारें समझ आया होगा। अब आप अपने Website के लिए Backlink बनाए और अपने website की Authority बढ़ाए।

Read more : वर्डप्रेस में Site Kit Plugin सेटअप कैसे करें – 1 Important plugin

FAQ.
backlink क्या है और High Quality Backlinks कैसे बनाए ?
Q. बैकलिंक से आप क्या समझते हैं?

Ans: बैकलिंक एक ऐसी लिंक है जो एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट को लिंक करती है। बैकलिंक एक महत्वपूर्ण SEO तकनीक है जो आपकी वेबसाइट की खोज इंजन रैंकिंग को बढ़ाने में मदद कर सकती है।

Q. क्या बैकलिंक्स 2024 काम करते हैं?

Ans: हाँ, बैकलिंक्स 2024 में भी काम करते हैं। अब, यह महत्वपूर्ण है कि आप केवल प्राकृतिक और उच्च गुणवत्ता वाले बैकलिंक प्राप्त करने के लिए प्रयास करें। जैसे: प्राकृतिक रूप से प्राप्त बैकलिंक्स, उच्च-विश्वास वाली वेबसाइटों से बैकलिंक्स etc.

Q. बैकलिंक्स SEO में क्यों महत्वपूर्ण हैं?

Ans: बैकलिंक SEO में महत्वपूर्ण हैं क्योंकि जब कोई अन्य वेबसाइट आपकी वेबसाइट से लिंक करती है, तो यह सर्च इंजन को बताता है कि आपका विषय या जानकारी उपयोगकर्ताओं के लिए महत्वपूर्ण है। इससे आपकी वेबसाइट की खोज इंजन रैंकिंग में सुधार हो सकता है।

Q. हाई क्वालिटी बैकलिंक कैसे बनाएं?

Ans: आपके बैकलिंक उन वेबसाइटों से होने चाहिए जो आपके विषय या उद्योग से संबंधित हों। इसके साथ ही आप उच्च DA वाली वेबसाइटों से बैकलिंक प्राप्त कर सकते हैं, तो इससे आपकी वेबसाइट की खोज इंजन रैंकिंग में सुधार होगा।

12 Comment on this post

  1. Recently I went through your post and I found it very interesting and informative.
    It would be a pleasure if you go through my post. 🙂

Your Comment

Whatsapp Channel
Telegram channel

Discover more from वेब ज्ञान हिन्दी

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading